Ayodhya Ram Mandir : राम मंदिर का 40 फीसदी काम हो गया पूरा,जानिए कब कर पाओगे रामलला के दर्शन

Ayodhya Ram Mandir

Ayodhya Ram Mandir : राम मंदिर का 40 फीसदी काम हो गया पूरा,जानिए कब कर पाओगे रामलला के दर्शन अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। बताया जा रहा है कि मंदिर निर्माण का 40 फीसदी काम पूरा हो चुका है। मंदिर निर्माण कार्य दिसंबर 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है।

अयोध्या राम मंदिर नवीनतम अपडेट : अयोध्या में राम जन्मभूमि परिसर में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर का निर्माण तेज गति से चल रहा है। दिसंबर 2023 तक मंदिर निर्माण और जनवरी 2024 में मकर संक्रांति पर भगवान श्री रामलला के विराजमान होने की संभावना है। मंदिर निर्माण को लेकर आज राम मंदिर ट्रस्ट की दो दिवसीय बैठक होने जा रही है। बैठक से पहले ट्रस्ट की ओर से मंदिर निर्माण की जानकारी देने वाला एक वीडियो जारी किया गया है।

यह भी पढ़े : PNB ने दिया अपने ग्राहकों को तोहफा किसानो के खाते में आएंगे 2 लाख रूपये, जानिए कैसे प्राप्त करे

मंदिर का 40 प्रतिशत काम पूरा

एक रिपोर्ट के मुताबिक, मंदिर का 40 फीसदी से ज्यादा काम पूरा हो चुका है। मंदिर निर्माण ट्रस्ट के अनुसार मंदिर निर्माण कार्य दिसंबर 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है। जनवरी 2024 की मकर संक्रांति पर भगवान श्री रामलला विराजमान होंगे। यानी 2024 में भगवान के भक्तों का सैकड़ों साल का इंतजार राम समाप्त होने की उम्मीद है।

आज होगी ट्रस्ट की अहम बैठक

मंदिर निर्माण की इन तैयारियों को लेकर आज श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की अहम बैठक होने जा रही है। दो दिनों तक होने वाली इस बैठक में मंदिर के गर्भगृह के निर्माण की कार्य योजना पर अंतिम मुहर लगाई जाएगी। इसके साथ ही राम जन्मभूमि परिसर में यात्री सुविधा के निर्माण और सुरक्षा के बीच इसके संचालन की व्यवस्था पर चर्चा की जाएगी। वहीं मंदिर निर्माण के साथ ही श्रद्धालुओं के लिए नए मार्ग का निर्माण भी शुरू हो गया है और आने वाली रामनवमी पर श्रद्धालुओं के लिए नया मार्ग खोल दिया जाएगा।

यह भी पढ़े : 456KM की रेंज वाली पहली इलेक्ट्रिक कार लांच की महिंद्रा ने, देखिये फीचर्स और डिटेल्स

2024 की मकर संक्रांति पर लाखों लोगों के होंगे दर्शन

2024 मकर संक्रांति पर राम मंदिर के गर्भगृह में लाखों श्रद्धालु भगवान श्री रामलला के दर्शन करेंगे। यही वजह है कि इस बार होने वाली ट्रस्ट की बैठक काफी अहम मानी जा रही है। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में लिए गए फैसलों की रिपोर्ट पीएमओ को भी भेजी जाएगी। इसलिए इस बैठक में पूर्व आईपीएस अधिकारी और निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा समेत 11 सदस्य शामिल होंगे।

आज की बैठक में पिछली बैठक के लक्ष्य पर भी चर्चा की जाएगी। सैकड़ों वर्षों के इंतजार और कानून की लड़ाई जीतने के बाद, राम भक्तों को राम मंदिर में रामलला के दर्शन का ही इंतजार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़े