Friday, October 7, 2022
Homegovt.scemपड़ताल : लापरवाही पर कलेक्टर सख्त, काम का मूल्यांकन कर करें कार्यवाही,...

पड़ताल : लापरवाही पर कलेक्टर सख्त, काम का मूल्यांकन कर करें कार्यवाही, दस्तक अभियान को गंभीरता से लेने को कहा

बैतूल : कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक लेकर स्वास्थ्य विभाग के दस्तक अभियान की समीक्षा की। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए.के. तिवारी, सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा मौजूद रहे। कलेक्टर ने सख्ती बरतते हुए अभियान में जुटे सभी कर्मचारियों के काम का मूल्यांकन करने और कमी पाए जाने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि अभियान के संचालन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लक्षित परिवारों को समय सीमा में अभियान के अंतर्गत दी जाने वाली सेवाओं का लाभ प्राप्त हो जाना चाहिए। जो कर्मचारी अभियान के अंतर्गत बेहतर प्रकार से कार्य नहीं कर रहे हैं, उनका वरिष्ठ अधिकारी मूल्यांकन कर प्रस्ताव भेजें, अनुशासनात्मक कार्रवाई की जावेगी। शहरी क्षेत्र बैतूल में गुणवत्ता के साथ कवरेज बढ़ाने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होंने कहा कि अभियान की समाप्ति पर गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं पाये जाने एवं उपलब्धि में कमी पाई जाने पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने शासन की मंशा को समझते हुए पोर्टल एन्ट्री पूर्ण करने, गूगल शीट में एंट्री करने एवं कार्य में प्रगति लाने हेतु निर्देशित किया।

यह भी जाने : बोल्डनेस में जाह्नवी कपूर से दो कदम आगे निकल रहीं छोटी बहन खुशी, ट्रांसपेरेंट कपड़े पहनकर दिए ऐसे पोज, देखे तस्वीरें

बैंस ने बताया कि बारिश को दस्तक अभियान में बाधा न मानें। उन्होंने शहरी स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी अधिकारी को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश दिए। बैंस ने पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती की स्थिति का जायजा लिया एवं भर्ती का प्रतिशत बढ़ाने हेतु निर्देशित किया। दस्तक अभियान के अंतर्गत कम हीमोग्लोबिन वाले बच्चों के रक्ताधान हेतु बैलून हॉस्पिटल (जिला चिकित्सालय बैतूल) में व्यवस्था के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने रिपोर्टिंग की तकनीकी खामियों को दूर करते हुये अच्छी कार्य योजना बनाकर अभियान में शत प्रतिशत उपलब्धि लाने हेतु निर्देशित किया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुलताई, भीमपुर, भैंसदेही, आठनेर, आमला में उपलब्धि में पाई गई। विषयवार कमियों के संबंध में विस्तृत चर्चा की एवं सुधार हेतु निर्देश दिए। बैठक में समस्त विकासखंडों के खंड चिकित्सा अधिकारी , चिकित्सक एवं अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

बहुचर्चित खबरें