भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन भारत में गेहूं का उत्‍पादन सबसे बड़े पैमाने पर होता है और गेहूं का निर्यात भी सबसे ज्‍यादा भारत ही करता है। बीते कई वर्षों से प्राकृतिक आपदाओं से परेशान किसानों को राहत देने के लिए नई किस्‍मों के गेहूं के बीज बनाए गए है, जो बेहतर उत्‍पादन देने के साथ किसानों को फायदा भी पहुंचाते है।

READ MORE-Maruti की ये 2 सस्ती कारे मार्केट में मचा रही बवाल लुक और फीचर्स भी तगड़े कीमत भी 5 लाख रुपये से कम देखे

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

wheat

अब तो देशभर में किसानों को घर बैठे ये उन्‍नत किस्‍म के बीज भी उपलब्‍ध (Online Booking of Wheat Seeds) कराए जा रहे है। देश के किसी भी कोने से किसान इन गेहूं के उन्‍नत बीज को अपनी आवश्‍यकता अनुसार ऑर्डर कर सकता है और यह उसके घर पर डिलीवर भी कर दिया जाएगा। चलिए बताते हैं किस तरह आप गेहूं के बीज की बुकिंग कर सकते है और इसके लिए आपकाे किन दस्‍तावेजों की आवश्‍यकता पड़ेगी।

गेहूं के उन्‍नत किस्‍म की हो रही बुकिंग (Online booking of wheat seeds)

यह भी पढ़े : नवंबर महीने में श्री विधि से गेहूं की इन किस्मो को बोने से तीन गुना बढ़ेगा उत्पादन 110 दिन में फसल होगी तैयार

जिस उन्‍नत किस्‍म के गेहूं के बीज की ऑनलाईन बुकिंग की जा रही है, उसका नाम है करण वंदना (Karan Vandana Wheat) और करन नरेंद्र (Karan Narendra Wheat) किस्म। अब इन किस्मों से खेती करना और भी आसान हो गया है।

कहां हो रही बुकिंग

भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान (Indian Institute of Wheat and Barley Research) के पोर्टल पर गेहूं की करण वंदना और करण नरेंद्र किस्म के बीजों की ऑनलाइन बुकिंगकी जा रही है। करनाल, हरियाणा में स्थित इस संस्थान ने 17 सितंबर से पोर्टल पर ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया शुरू की गई है। पढ़िए किसान कैसे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं और बुकिंग की क्या नियम और शर्ते हैं।

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

हरियाणा के करनाल में स्थित भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान (IIWBR) के पोर्टल पर 11 सितंबर से गेहूं की ऑनलाइन बुकिंग शुरू हो गई है, संस्थान के निदेशक डॉ. ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने 17 सितंबर सोशल मीडिया के माध्यम से किसानों को बताया, “पोर्टल की शुरूआत 17 सितंबर से हो गई है, इस पर किसानों को जितना बीज चाहिए उसकी बुकिंग कर सकते हैं।”

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान, करनाल के प्रधान वैज्ञानिक (कृषि प्रसार) डॉ. अनुज कुमार गाँव कनेक्शन से ऑनलाइन प्रकिया के बारे में बताते हैं, “हमने जितनी भी उन्नत किस्मों की बुकिंग शुरू की थी, उनमें से पहले दिन ही सब बुक हो गईं, अभी किस्मों DBW 222 (करण नरेंद्र) और DBW 187 (करण वंदना) की बुकिंग चल रही है।

READ MORE-Bhumi Pednekar की लेटेस्ट तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश, अपनी कातिल अदाओं से ढाया कहर, बनी सोशल मीडिया क़्वीन

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

गेहूं | गेहूं की फसल और इसकी किस्मों के बारे में जानकारी

उन्नत किस्मों की ऑनलाइन बुकिंग

भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान, करनाल के पोर्टल https://iiwbrseed.in/ पर DBW 222 (करण नरेंद्र) और DBW 187 (करण वंदना) की बुकिंग प्रक्रिया शुरू की गई है। संस्थान के निदेशक डॉ. ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह बुकिंग के लिए जरूरी नियम और शर्तों के बारे में बताते हैं।

भारत में गेहूं बुवाई का समय आ गया है गेहूं की उन्नत किस्मो को ऐसे ऑनलाइन बुकिंग करे ये किस्मे देगी बंपर उत्‍पादन

  • IIWBR Portal पर बीजों की ऑनलाइन बुकिंग के साथ-साथ किसानों को ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा भी दी गई है।
  • इस पोर्टल पर 18 वर्ष सा उससे अधिक उम्र वाले किसान ही गेहूं के उन्नत किस्मों की बीजों की बुकिंग करा सकते हैं।
  • पोर्टल पर बीजों की बुकिंग के बाद अक्टूबर के पहले और दूसरे हफ्ते में किसानों से संपर्क किया जायेगा।

किन दस्‍तावेजों की है आवश्‍यकता

  • आधार नंबर,
  • आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर,
  • गाँव, जिला और प्रदेश का नाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़े