Sunday, September 25, 2022
HomebusinessBusiness : देश की दूसरी सबसे बड़ी सरकारी तेल कंपनी का बड़ा...

Business : देश की दूसरी सबसे बड़ी सरकारी तेल कंपनी का बड़ा ऐलान, इस सेक्टर में निवेश करेगी 1.40 लाख करोड़ रुपये

BPCL: जोखिम को कम करते हुए उभरते अवसरों का फायदा उठाने के लिए कंपनी अपनी स्ट्रैटेजी का फिर से मूल्यांकन कर रही है. इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicle) और हाइड्रोजन (Hydrogen) पर जोर के साथ कंपनियां इस ओर आकर्षित हो रही हैं.

BPCL बीना और कोच्चि में अपनी तेल रिफाइनरियों में पेटकेम परियोजनाएं भी स्थापित करेगी. (Reuters)

BPCL: देश की दूसरी सबसे बड़ी ऑयल रिफाइनिंग और ऑयल मार्केट कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने बड़ा ऐलाना किया है. बीपीसीएल  अगले 5 वर्षों में पेट्रोकेमिकल्स (petrochemicals), सिटी गैस और क्लिन एनर्जी में 1.4 लाख करोड़ रुपये निवेश करेगी. कंपनी की ताजा वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि जोखिम को कम करते हुए उभरते अवसरों का फायदा उठाने के लिए कंपनी अपनी स्ट्रैटेजी का फिर से मूल्यांकन कर रही है।

यह भी जाने : बजाज CT 125X बाइक, अब इसमें फोन का चार्जिंग सॉकेट भी मिलेगा, जानिए इसके लुक और फीचर्स के बारे में

बीपीसीएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अरुण कुमार सिंह ने कहा, दुनिया भर के देशों के क्लिन, कार्बन फ्री फ्यूल का विकल्प चुनने के साथ तेल कंपनियां भी हाइड्रोकार्बन संचालन के जोखिम से बचने के लिए अन्य व्यवसायों की तलाश कर रही हैं. इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicle) और हाइड्रोजन (Hydrogen) पर जोर के साथ कंपनियां इस ओर आकर्षित हो रही हैं.

उन्होंने कहा, कंपनी ने अतिरिक्त आय का स्त्रोत बनाने और लिक्विड फॉसेल्स फ्यूल बिजनेस में किसी भी संभावित भविष्य में गिरावट के जोखिम से बचने के लिए अन्य वैकल्पिक कारोबारों में विविधता लाने और विस्तार करने की योजना बनाई है।

यह भी जाने :आज के दिन यह कार्य करना पड़ सकता है भारी, जानिए बचने के उपाय

BPCL के देश भर में  20,217 पेट्रोल पंप

देश में 83,685 पेट्रोल पंपों में से 20,217 बीपीसीएल के हैं. कंपनी न केवल पेट्रोल और डीजल की बिक्री कर रही है, बल्कि इलेक्ट्रिक वाहनों की चार्जिंग के साथ-साथ हाइड्रोजन जैसे भविष्य के ईंधन भी उपलब्ध करा रही है.

5 साल में 1.4 लाख करोड़ रुपये निवेश का प्लान

सिंह ने कहा, कंपनी ने इन रणनीतिक क्षेत्रों में से प्रत्येक के तहत एक विस्तृत रूप-रेखा तैयार की है और अगले पांच साल में लगभग 1.4 लाख करोड़ रुपये के पूंजीगत व्यय की योजना बनाई है.

इस कड़ी में बीपीसीएल बीना और कोच्चि में अपनी तेल रिफाइनरियों में पेटकेम (पेट्रो-रसायन) परियोजनाएं भी स्थापित करेगी.

बहुचर्चित खबरें