Saturday, October 8, 2022
Homeपड़तालक्लास 7th के छात्र द्वारा लिखा पत्र, बताया लड़की क्लास में करती...

क्लास 7th के छात्र द्वारा लिखा पत्र, बताया लड़की क्लास में करती है ये हरकते

क्लास 7th के छात्र द्वारा लिखा पत्र, बताया लड़की क्लास में करती है ये हरकते

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक चिट्ठी जमकर वायरल हो रही। इसमें सीतवीं से छात्रों ने लड़कियों से परेशान होकर अपने प्रिंसिपल को लिखी। इसमें ऐसा क्या कि लोगों ने कह दिया पुरुष आयोग का गठन होना चाहिए।

सोशल मीडिया में एक एप्लीकेशन खूब वायरल हो रही है। इस एप्लीकेशन कक्षा सात छात्रों ने अपना दर्द प्रिसिंपल को चिट्ठी के जरिए बताया। मामला है उत्तर प्रदेश का औरेया। यहां के तैय्यापुर के जवाहर नवोदय विद्यालय का है। केंद्र सरकार का आवासीय स्कूल है। इन दिनों यहां से एक चिट्ठी सोशल मीडिया पर ‘धर्राटे काट रही है’। कक्षा सातवीं ‘अ’ के लड़कों द्वारा ये लिखी गई है। इसमें छात्रों ने मांग की है कि क्लास की लड़कियां माफी मांगें। लेकिन प्रश्न ये है कि आखिर कक्षा सात की लड़कियों ने ऐसा क्या किया कि छात्रों ने तंग आकर प्रिंसिपल को चिट्ठी लिख डाली है।

छात्रों ने चिट्ठी में क्या लिखा है
ये शिकायत भरी चिट्ठी स्कूल के प्रिंसिपल के नाम लिखी गई है। इसमें लड़कों ने लिखा है कि क्लास की लड़कियों ने उनके उल्टे सीधी नाम रखे हैं। किसी को लल्ला, किसी को डामर तो किसी को रसगुल्ला बुलाती हैं। लिखा है कि लड़कियां खुद तो क्लास में खूब हल्ला करती हैं। लड़कों से औकात में रहने की बात करती हैं और डायलॉगबाजी करती हैं। आगे लिखा कि लड़कियां ‘ओम फोम धर्राटे काट रही हैं।

जान लीजिए क्या बोले प्रिंसिपल
छात्रों द्वारा लिखी इस चिट्ठी के वायरल होने के बाद नवोदय विद्यालय औरेया के प्रिंसिपल डॉक्टर संजीव गुप्ता ने बताया कि ये करीब दो महीने पहले की चिट्ठी है, मेरे संज्ञान में आज आई है। इसको लेकर मैंने स्टाफ मीटिंग भी हुई। तब पता चला कि लड़कों ने चिट्ठी लिखकर अपने वॉर्डन को दी थी और वॉर्डन ने लड़के-लड़कियों से बात करके मामला सुलझा लिया था। लेकिन अब टीचर्स को निर्देश दिए गए हैं कि ऐसी बातें मुझे जरूर बताई जानी चाहिए।

सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रही चिट्ठी
सोशल मीडिया में इस एप्लीकेशन को लेकर कई मीम्स वायरल हो रहे है। लोग इसे लेकर काफे मजेदार कमेंट्स कर रहे हैं। एक यूथर ने सोशल मीडिया में लिख रहा है कि इसी बहाने पुरुष आयोग का गठन कर दिया जाना चाहिए। तो वहीं कोई हैंडराइटिंग की तारीफ कर रहा है कुछ लोगों ने इस पर टैग दैट पर्सन वाला ट्रेल भी शुरू कर दिया है। एक शख्स ने लिखा- गंभीर समस्या है, लड़कियां धर्राटे काट रही हैं। एक ने लिखा- बराबरी का मतलब है- बराबर मौके, बराबर ईनाम और बराबर सजा भी। इस तरह के कमेंट किया।

बहुचर्चित खबरें