Saturday, October 8, 2022
Homebank newsCorporate tax collection: कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन में आया 34% का बम्पर उछाल,...

Corporate tax collection: कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन में आया 34% का बम्पर उछाल, जानिए सरकारी खजाने में कितने आए

Corporate tax collection: इनकम टैक्स डिपार्टेमेंट ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले चार महीने (अप्रैल से 31 जुलाई तक) में कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन में सालाना आधार पर 34 फीसदी की तेजी आई है. हालांकि, रकम का खुलासा नहीं किया गया है.

Corporate tax collection: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने शुक्रवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष (2022-23) के पहले चार महीनों में कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन (Corporate tax) सालाना आधार पर 34 फीसदी बढ़ा है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से ट्वीट कर इस संबंध में जानकारी शेयर की गई है, जिसमें कहा गया है कि यह डेटा 31 जुलाई के आधार पर है. वित्त वर्ष 2021-22 में टोटल कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन 7.23 लाख करोड़ रुपए रहा था. यह वित्त वर्ष 2020-21 के मुकाबले 58 फीसदी ज्यादा है. इसकी तुलना अगर कोरोना पूर्व वित्त वर्ष 2018-19 से करें तो वित्त वर्ष 2021-22 के कलेक्शन में 9 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

यह भी जाने : जुलाई में देश के निर्यात में आया मामूली उछाल, व्यापार घाटा 3 गुना बढ़ा

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से जारी ट्वीट में फिलहाल यह नहीं बताया गया है कि टैक्स कलेक्शन कितना रहा. विभाग ने कहा कि ये आंकड़े दर्शाते हैं कि कर व्यवस्था को सरल बनाने और कम दरों से कलेक्शन बढ़ा है. विभाग की तरफ से कहा गया कि टैक्स कलेक्शन में तेजी का ट्रेंड कायम है. हालांकि, वित्त वर्ष 2020-21 में कॉर्पोरेट टैक्स कलेक्शन पर कोरोना महामारी का गंभीर असर दिखाई दिया था.

5.83 करोड़ इंडिविजुअल टैक्स रिटर्न फाइल किए गए

इधर इंडिविजिअल इनकम टैक्स रिटर्न की डेडलाइन 31 जुलाई को खत्म हो चुकी है. विभाग की तरफ से शेयर की गई जानकारी के मुताबिक, 31 जुलाई 2022 तक कुल 5.83 करोड़ टैक्सपेयर्स ने रिटर्न फाइल किया. 31 जुलाई को एक दिन में रिकॉर्ड 72.42 लाख रिटर्न फाइल किए गए.

31 दिसंबर तक रिटर्न फाइल करने का मौका

अगर आपने अभी तक वित्त वर्ष 2021-22 के लिए रिटर्न फाइल नहीं किया है तो अभी भी मौका है. 31 दिसंबर 2022 तर लेट रिटर्न फाइल किया जा सकता है. हालांकि, इसके लिए 5000 रुपए तक की पेनाल्टी है. अगर किसी टैक्सपेयर की नेट टैक्सेबल इनकम 5 लाख से कम है तो उसके लिए पेनाल्टी 1000 रुपए है और उससे ज्यादा टैक्सेबल इनकम होने पर 5000 रुपए की पेनाल्टी है.

बहुचर्चित खबरें