kheti samachar गेंहू की ये 8 किस्मो से होगी भरपूर पैदावार और ज्यादा मुनाफा जानिए इन किस्मो की विशेषताएं प्रति हेक्टेयर कितनी होगी उपज

Best 8 Wheat Variety :- Wheat की ये 8 किस्मे देगी छप्परफाड़ पैदावार जानिए इन किस्मो की विशेषताएं प्रति हेक्टेयर कितनी होगी उपज। Best Wheat Variety बम्पर पैदावार होगी खरीफ फसल लगभग पककर तैयार हो गई है। जिसके बाद रबी सीजन में किसान गेहूं व चना की बुवाई के लिए तैयारी करने लग जाते हैं। इस समय उन्हें उचित किस्म का चयन करना आवश्यक हो जाता है। हम आपको गेहूं की कुल 8 किस्म की जानकारी विस्तार में बताएंगे पढ़े पूरी खबर।

गेंहू की बेस्ट किस्मों की जानकारी

1. लोक-1 (लोकवन)

किस्म (Best wheat variety 2022) का दाना – यह द्विजीन बौनी किस्म है। इसके दाने सख्त व सुनहरी आभा वाले तथा 1000-दानों का वजन 45-55 ग्राम होता है।

किस्म की विशेषताएं – जल्दी पकने के कारण इसकी उपज सामान्य व पिछेती, दोनों बुवाई की परिस्थितियों में अच्छी होती है। इस किस्म के दाने काला धब्बा रोग से अधिक प्रभावित होते हैं।

फसल पकने की अवधि – यह किस्म 100-110 दिन में पककर 40-45 क्विंटल प्रति हैक्टर उपज देती है।

किस्म की विशेषताएं – जल्दी पकने के कारण इसकी उपज सामान्य व पिछेती, दोनों बुवाई की परिस्थितियों में अच्छी होती है। इस किस्म के दाने काला धब्बा रोग से अधिक प्रभावित होते हैं।

फसल पकने की अवधि – यह किस्म 100-110 दिन में पककर 40-45 क्विंटल प्रति हैक्टर उपज देती है।

kheti samachar गेंहू की ये 8 किस्में देगी अधिक पैदावार होगा ज्यादा मुनाफा जानिए इन किस्मो की विशेषताएं प्रति हेक्टेयर कितनी होगी उपज

2.डब्ल्यू एच 147 (WH-147)

इन क्षेत्रों के लिए उपर्युक्त – यह किस्म सामान्य बुवाई की स्थिति व सिंचित क्षेत्रों के लिये उपयुक्त है।

किस्म की विशेषताएं – इस किस्म के दाने बड़े आकार के सख्त, शरबती व अम्बर रंग के होते है। इसके 1000-दानों का वजन 42-54 ग्राम होता है। इसकी चपाती अच्छी बनने के कारण यह उपभोक्ताओं द्वारा पसन्द की जाती है।

फसल पकने की अवधि – यह 125-130 दिन में पककर 40-50 क्विंटल प्रति हैक्टर की औसत उपज देती है।

यह भी पड़े New Model Alto 800:मारुती सुजुकी Alto 800 के नए मॉडल से उड़ेंगे होश, कम कीमत में दे रही अच्छे फीचर्स, जानिए इसकी कीमत और फीचर्स

3. राज. 3077

किस्म का दाना – दानें शरबती आभायुक्त, सख्त व मध्यम आकार के होते हैं व 1000-दानों का भार 35-38 ग्राम है।

विशेषताएं – यह बौनी, अधिक फुटान वाली रोली रोग रोधक किस्म है। मजबूत व मोटे तने के कारण यह किस्म आड़ी नहीं गिरती है।

फसल पकने की अवधि – यह किस्म (Best wheat variety 2022) 100-110 दिन में पककर 40-60 क्विंटल प्रति हैक्टर उपज देती है। यह सामान्य व पिछेती, दोनों बुवाई की परिस्थितियों के लिये उपयुक्त है।

4.डीबीडब्ल्यू- DBW 187 (करण वंदना)

यह किस्म भा.कृ.अनु.प.-भारतीय गेहूँ एवं जौ अनुसंधान संस्थान, करनाल के द्वारा वर्ष 2019 में विकसित की गयी।

किस्म की विशेषताएं – यह किस्म पीली एवं भूरी रोली प्रतिरोधी है। इस किस्म (Best wheat variety 2022) में उच्च लौह तत्व (43.1 पीपीएम) के साथ चपाती गुणवत्ता है।

फसल पकने की अवधि – सामान्य बुवाई एवं सिंचित क्षेत्रों के लिये उपयुक्त यह किस्म लगभग 120 दिन में पककर तैयार होती है। इसकी औसत ऊंचाई 100 सेमी है।

पैदावार – इसकी उपज क्षमता 64.70 क्विंटल प्रति हैक्टर है।

5.एचआई HI-1620 (पूसा गेहूँ 1620)

यह किस्म भा.कृ.अनु.प.-भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय केन्द्र, इन्दौर के द्वारा वर्ष 2019 में विकसित की गयी।

किस्म का दाना – इस किस्म के 1000-दानों का वजन 40-45 ग्राम होता है।

किस्म की विशेषताएं – चपाती बनाने में उपयुक्त यह किस्म (Best wheat variety 2022) पीली एवं भूरी रोली प्रतिरोधी है।

पैदावार – इसकी औसत ऊंचाई 99 सेमी और इसकी उपज क्षमता 61.80 क्विंटल प्रति हैक्टर है।

यह भी पड़े Rashmika Mandanna नवरात्रि मनाने मुंबई पहुंची पोस्ट शेयर कर व्यक्त की ख़ुशीया

6.एचडी HD-3086 (पूसा गौतमी)

इस किस्म को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली ने वर्ष 2014 में विकसित किया।

किस्म का दाना – इस किस्म के 1000-दानों का वजन औसतन 39 ग्राम होता है।

किस्म की विशेषताएं – यह किस्म पीली एवं भूरी रोली प्रतिरोधी है।चपाती बनाने में उपयुक्त इस किस्म में प्रोटीन की मात्रा 12.5 प्रतिशत है।

फसल पकने की अवधि – सामान्य बुवाई एवं सिंचित क्षेत्रों के लिये उपयुक्त यह किस्म लगभग 130 दिन में पककर तैयार होती है।

पैदावार – इसकी उपज क्षमता 71 क्विंटल प्रति हैक्टर है।

Wheat की ये 8 किस्मे देगी छप्परफाड़ पैदावार जानिए इन किस्मो की विशेषताएं प्रति हेक्टेयर कितनी होगी उपज

7.एचआई HI-1620 (पूसा गेहूँ 1620)

यह किस्म भा.कृ.अनु.प.-भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय केन्द्र, इन्दौर के द्वारा वर्ष 2019 में विकसित की गयी।

किस्म का दाना – इस किस्म के 1000-दानों का वजन 40-45 ग्राम होता है।

किस्म की विशेषताएं – चपाती बनाने में उपयुक्त यह किस्म (Best wheat variety 2022) पीली एवं भूरी रोली प्रतिरोधी है।

फसल पकने की अवधि – सामान्य बुवाई के लिये उपयुक्त यह किस्म 125-140 दिन में पककर तैयार होती है।

पैदावार – इसकी औसत ऊंचाई 99 सेमी और इसकी उपज क्षमता 61.80 क्विंटल प्रति हैक्टर है।

8. जी.डब्ल्यू. 190 (GW 190)

Above for These Areas – सिंचित परिस्थितियों में उच्च खाद की मात्रा के साथ यह किस्म समय पर व अगेती बुवाई हेतु उपयुक्त है।

किस्म की विशेषताएं – यह किस्म (Best wheat variety 2022) रोली व काला धब्बा रोग प्रतिरोधी है।

किस्म का दाना – इस किस्म की ऊंचाई 95-100 सेमी एवं 1000-दानों का वजन 40-43 ग्राम होता है।

फसल पकने की अवधि – पकाव अवधि 115-120 दिन है।

पैदावार – यह औसतन 45-55 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़े