Friday, October 7, 2022
Homebank newsOpinion : ऑफर पड़ गया भारी! क्रेडिट कार्ड के कर्ज में क्‍या...

Opinion : ऑफर पड़ गया भारी! क्रेडिट कार्ड के कर्ज में क्‍या आप भी फंसे हैं? ये है टेंशन दूर करने का आसान रास्‍ता

Credit Card Debt repayments: आज के समय में ई-कॉमर्स प्‍लेटाफॉर्म पर आए दिन सेल चलती रहती है. इस बीच फेस्टिवल या किसी खास मौके पर ये कंपनियां स्‍पेशल ऑफर निकालती है. जिसमें केडिट काड्र्स पर स्‍पेशल डिस्‍काउंट देती हैं. ऐसे में अमूमन यह देखने को मिलता है कि हम डिस्‍काउंट या सस्‍ते के चक्‍कर में क्रेडिट कार्ड पर जरूरत से ज्‍यादा खरीदारी कर लेते हैं. छोटे आइटम से लेकर बड़े आइटम की खरीदारी में ये ऑफर अक्‍सर ओवरस्‍पेडिंग करा देते हैं. बाद में क्रेडिट कार्ड के बिल के रिपेमेंट में दिक्‍कतें आने लगती हैं. कई ऐसे कस्‍टमर हैं, तो इस छूट के चलते में अपने को क्रेडिट कार्ड के कर्ज के जाल में फंसा लेते हैं. बहरहाल, अगर आप किसी भी वजह से क्रेडिट कार्ड के कर्ज में फंस गए हैं, तो घबराए नहीं, इससे बाहर निकलने का भी रास्‍ता है।

रिपेमेंट की स्‍ट्रैटजी बनाएं -1

क्रेडिट कार्ड के कर्ज से निजात पाने के लिए आपको रिपेमेंट गोल और उसकी एक स्‍ट्रैटजी बनानी होगी. इसमें चार बातें समझने की जरूरत है. पहला, अगर आपकी सेविंग्‍स ज्‍यादा हो रही है तो मिनिमम अमाउंट से ज्‍यादा बकाया चुकाए. इससे आपका ब्‍याज कम होगा. दूसरा डेट स्‍लोबॉल, इसका मतलब यह हैकि पहले आप छोटे-छोट कर्ज को पहले चुकाएं. इससे थोड़े सयम बाद बड़े कर्ज को चुकाने के लिए पर्याप्‍त अमाउंट आपके पास होगा।

यह भी जाने : जम्मू-कश्मीर में दुनिया का सबसे ऊंचा पुल तैयार, वर्कर्स ने फहराया तिरंगा, आतिशबाजी भी की गई

रिपेमेंट की स्‍ट्रैटजी बनाएं- 2

रिपेमेंट की तीसरी स्‍ट्रैटजी यह है कि आप अपनी क्रेडिट लिमिट को पर्सनल लोन में कन्‍वर्ट करा लें और आसान किस्‍तों में भुगतान कर दें. अमूमन पर्सनल लोन की ब्‍याज दरें क्रेडिट कार्ड बकाये की ब्‍याज दर से कम होती हैं.  चौथा , यह कि आप क्रेडिट कार्ड पेमेंट न भूलें, इसलिए ऑटोमेटिक पेमेंट सेट कर दें. हर बैंक में यह सर्विस होती है. इससे लेट पेमेंट नहीं देना होगा।

कर्ज को एक अकाउंट में लाएं 

क्रेडिट कार्ड के अगर एक से ज्‍यादा पेमेंट बकाया हैं, तो सबसे बेहतर होता है कि डेट कंसॉलिडेशन कराएं. यानी सभी क्रेडिट कार्ड पेमेंट्स को एक अकाउंट में करा सकते हैं. इससे यह होगा कि आपको अलग-अलग पेमेंट की बजाय एक पेमेंट करना होगा।

यह भी जाने : धार के लीकेज वाले डैम को बचाने की कोशिश, बांध के साइड से बनाई जा रही नहर

बैंक या कंपनी से बात करें 

क्रेडिट कार्ड डेट से बाहर निकलने का एक अहम रास्‍ता है कि आपको एक्टिव अप्रोच अपनाना होगा. सबसे पहले आप क्रेडिट कार्ड जारी करने वाले बैंक या कंपनी से बात करें कि आपको रिपेमेंट की शर्तों में क्‍या और कितनी छूट मिल सकती है. अगर बकाया बिल काफी ज्‍यादा है, तो अधिकांश बैंक इसका रास्‍ता बना लेते हैं।

खर्चों में कटौती करें 

क्रेडिट कार्ड का कर्ज आप पर भारी पड़ रहा है, तो ऐसे समय में आपको अपने खर्चे घटाने के बारे में सोचना चाहिए. आपको जैसे ही सैलरी मिले, तो सबसे पहले आप क्रेडिट कार्ड बकाया चुकाने की कोशिश करें. उसके बाद बैलेंस से महीने का बजट बनाएं. खर्चे से पहले बकाया चुकाने की स्‍ट्रैटजी काफी कारगर है. इससे आपका क्रेडिट स्‍कोर भी बेहतर होगा।

बहुचर्चित खबरें