Friday, October 7, 2022
Homeउन्नत खेतीKadknath Murgi palan : कम लागत में करे कड़कनाथ मुर्गी पालन और...

Kadknath Murgi palan : कम लागत में करे कड़कनाथ मुर्गी पालन और कमाए लाखो रूपये ,जाने कैसे

Kadknath Murgi palan :सरकार देश भर में स्वरोजगार के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसके लिए सरकार समय-समय पर विभिन्न योजनाओं को लागू करती रही है। इन योजनाओं में से कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना लागू की गई है। यह योजना राज्य के लोगों के लिए स्वरोजगार में सहायक होगी। इसके माध्यम से कड़कनाथ मुर्गी पालन पर अनुदान दिया जाएगा। जानिए इस योजना के बारे में….

कड़कनाथ के बारे में (कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022)

कड़कनाथ का वैज्ञानिक नाम गैलस गैलस डोमेस्टिकस है। कड़कनाथ पक्षी मुर्गे की एक देशी नस्ल है जिसे ब्लैक मासी और ब्लैक गोल्ड के नाम से जाना जाता है। इसका उद्गम अलीराजपुर जिले की काठीवाड़ा तहसील में माना जाता है। यह पक्षी मध्य प्रदेश के पश्चिमी जिलों में मुख्यतः झाबुआ, अलीराजपुर और धार के विभिन्न क्षेत्रों में पाया जाता है। यह पक्षी पश्चिमी मध्य प्रदेश के अलावा यहां से सटे क्षेत्र में आता है, जो गुजरात और राजस्थान राज्य की सीमा में है। यह पक्षी भी वहीं पाया जाता है।

कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना 2022
कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022 | यह योजना पशुपालन विभाग, मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 01-08-2009 को लागू की गई है। यह योजना राज्य के सभी जिलों में लागू की जा रही है। इस योजना के तहत 40 कड़कनाथ चूजों को 28 दिनों तक बिना लिंग भेदभाव के साथ ही अनाज और दवाइयाँ उपलब्ध कराने का प्रावधान है।

योजना का उद्देश्य
इस योजना (कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022) का मुख्य उद्देश्य कुक्कुट पालन के माध्यम से लाभार्थियों की आर्थिक स्थिति में सुधार करना और कड़कनाथ नस्ल की रक्षा करना है।

कड़कनाथ मुर्गी पालन से कमा सकते हैं अच्छा पैसा
कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022 | देश भर में बढ़ती आबादी के साथ अंडे और चिकन की मांग भी बढ़ गई है। कड़कनाथ चिकन 900 से 1200 रुपये किलो बिक रहा है। जहां देसी मुर्गा 700 रुपए किलो तक बिकता है। कड़कनाथ मुर्गे के एक अंडे की कीमत करीब 50 रुपये है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति कड़कनाथ मुर्गी पालन करता है तो वह अच्छा पैसा कमा सकता है।

यह भी पड़े Goat farm:सरकार दे रही 10 बकरी पालने पर 4 लाख का लोन ,जल्द करे अप्लाई

कौन ले सकता है योजना का लाभ
राज्य सरकार द्वारा लागू कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना सभी श्रेणी के लाभार्थियों के लिए है। जैसे गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले या वरिष्ठ नागरिक, नागरिक या शिक्षार्थी आदि।

योजना का लाभ
कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022 | अनुदान पर कड़कनाथ चूजों की आपूर्ति योजना की कुल इकाई लागत 4400 रुपये, सभी श्रेणियों के लिए 75 प्रतिशत अनुदान, 3300 रुपये, लाभार्थी योगदान, 25 प्रतिशत, 1100 रुपये, इस योजना के तहत, 40 कड़कनाथ चूजों को 28 दिनों के बिना प्रदान किया जाएगा लैंगिक भेदभाव।

यह भी पढ़ें…यह है देशी गाय पालन योजना में अनुदान देने की पूरी प्रक्रिया, आसान तरीके से समझें

गोपालक किसानों को शिवराज सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, देसी गाय पालने के लिए हर महीने मिलेगा पैसा

  • योजना की कुल इकाई लागत-
  • लिंग के बिना (कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022) 28 दिन 40 चूजों की कीमत 65 रुपये प्रति चूजा 2600 रुपये है।
  • दवा या टीकाकरण 200 रुपये प्रति चूजा 5 रुपये।
  • परिवहन (चिक बॉक्स सहित) 210 रुपये।
  • प्रति पक्षी 48 ग्राम पोल्ट्री फीड की दर से 30 दिनों के लिए कुल 1390 रुपये प्रतिदिन।
  • डाइट 58 किलो 24 रुपये प्रति किलो।
  • कुल लागत 4400 रु.
  • आवेदन कैसे करें
  • कड़कनाथ मुर्गी पालन योजना 2022 | योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक को अपने नजदीकी पशु चिकित्सा संस्थान से संपर्क करना होगा।

यह भी पड़े Malaika Arora : मलाइका ने खनकाई चूड़ियां, ऐसी नाचीं मलाइका कि अर्जुन कपूर देखते रह जायेगे दंग

आवेदन की बिन्दुवार पूरी प्रक्रिया-

योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी की ग्राम सभा में स्वीकृति। जनपद पंचायत की बैठक में ग्राम सभा द्वारा स्वीकृत हितग्राहियों की स्वीकृति। जनपद पंचायत की स्वीकृति उपरांत जिला पंचायत की कृषि स्थायी समिति की बैठक में अनुमोदन प्राप्त करना।

बहुचर्चित खबरें