Friday, September 30, 2022
Homeदान पुण्यएक भक्त ने महाकाल को चढ़ाए 11 लाख के आभूषण, दानदाता को...

एक भक्त ने महाकाल को चढ़ाए 11 लाख के आभूषण, दानदाता को मिलती हैं कई सुविधाएं

मध्यप्रदेश : महाकाल मंदिर के पुजारी प्रदीप गुरु तथा यश गुरु की प्रेरणा से वडोदरा गुजरात के भक्त ने बाबा महाकाल को करीब 11 लाख के सोने के आभूषण भेंट किए हैं।

गुजरात निवासी भक्त गौरव ठक्कर ने रविवार को बाबा महाकाल का भांग श्रंगार कराकर पूजन-अर्चन किया तथा सोने की त्रिपुंड, नेत्र, नाक, होंठ आदि अर्पित किए। बताया जाता है कि इनका कुल वजन करीब 200 ग्राम तथा कीमत लगभग 11 लाख रुपए है।

400 से अधिक सूचीबद्ध दानदाता

मंदिर प्रबंध समिति की ओर से भस्म आरती अनुमति की संपूर्ण पारदर्शी प्रक्रिया है, अनाधिकृत कोई अनुमति जारी नहीं की जाती। प्रशासक गणेश कुमार धाकड़ ने बताया कि मंदिर की सभी व्यवस्थाएं दान से ही संचालित होती हैं। 400 से अधिक सूचीबद्ध दानदाता होने के साथ ही सामान्य तौर पर श्रद्धालु यहां दान करते है। प्रबंध समिति द्वारा सूचीबद्द्ध दानदाताओं के लिए 30 सीट भस्म आरती की रिजर्व रखी जाती है। इन्हीं में से यदि कोई अन्य दानदाता आते हैं तो न्यूनतम 1100 रुपए व दानदाता की श्रद्धा व इच्छानुसार अधिकतम दानराशि के आधार पर उन्हें अनुमति दी जाती है। ऐसे दानदाताओं से भी प्रति व्यक्ति 200 रुपए शुल्क लिया जाता है। भस्म आरती की अनुमति व्यवस्था निर्धारित संख्या के लिए होकर नाममात्र की संख्या सूचीबद्ध दानदाता, तत्काल के दानदाता व बची हुई सीटों के रूप में दी जाती है। इसके लिए ऑनलाइन भुगतान की सुविधा उपलब्ध है। काउंटर पर आकर दान राशि के रूप में जमा कर रसीद प्राप्त करते हैं।

बहुचर्चित खबरें