Friday, September 30, 2022
HomebusinessReal Estate : क्या आप भी अपने सपनो का घर बनाना चाहते...

Real Estate : क्या आप भी अपने सपनो का घर बनाना चाहते है, घर बनाने की लागत 200 रुपए वर्गफीट घटी, आज ही जाने पूरी जानकारी

Real Estate : बढ़ती महंगाई के बीच घर का सपना देखने वालों के लिए राहत की खबर है। पिछले तीन महीने में आशियाने के निर्माण लागत में 10 से 12 फीसदी तक की कमी आई है। इसका कारण सरिया, सीमेंट, टाइल्स सहित अन्य सामग्री के दामों में गिरावट होना है। मार्च-अप्रैल में जो निर्माण लागत 1700 रुपए प्रति वर्ग फीट पहुंच गई थी, वह अब घटकर 1500 रुपए के आसपास आ गई है।

यानी प्रति वर्गफीट करीब 200 रुपए तक लागत घट गई है। इससे शहर के करीब 400 निजी और 100 सरकारी प्रोजेक्ट्स को गति मिलेगी। निर्माण सामग्री के दाम कम होने से रियल एस्टेट सेक्टर को बूस्टर मिलेगा। बढ़ती महंगाई के कारण कई लोगों ने अपने घर बनाने का प्लान टाल दिया था, अब वे शुरू हो सकेंगे।

ट्रांसपोर्टेशन सस्ता होने का भी असर
बिल्डर एसोसिएशन के अध्यक्ष अरुण जैन ने बताया कि डीजल के दाम अप्रैल-मई में 100 रुपए लीटर तक हो गए थे जो घटकर करीब 94 रुपए हो गए। ट्रांसपोर्टेशन खर्च कम होने के साथ सीमेंट कंपनियों ने भी कीमतें घटाई हैं। अन्य उत्पाद भी सस्ते हुए हैं।

सीमेंट की बोरी पहले 350 में आ रही थी, अब 290 रु.
मार्च की तुलना में सीमेंट की कीमत में 17.14 फीसदी की कमी आई है। 350 रुपए प्रति बोरी से दाम गिरकर करीब 290 पर आ गए हैं। इंदौर टाइल्स एसोसिएशन के अमित टोंग्या ने बताया तीन महीने में टाइल्स के दामों में 15 फीसदी गिरावट हुई। 2 बाय 2 की जो टाइल्स 42 रुपए वर्गफीट पर पहुंच गई थी वह 35 रुपए तक आ गई है।

यह भी जाने : बजट वाले पांच 5G स्मार्टफोन, इसी महीने से देश में आएगा 5G तो हाई स्पीड इंटरनेट के साथ अपडेट करना होगा फोन

लोहे के दाम और होंगे कम

इंदौर लोहा व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष आमीर इंजीनियरवाला ने बताया जो सरिया अप्रैल में रिकॉर्ड 85 रुपए किलो तक पहुंच गया था वह करीब 65 रुपए पर है। सितंबर में सरिए के दामों में और कमी आने की उम्मीद है।

बिल्डर-जनता दोनों को थोड़ी राहत

क्रेडाई इंदौर के सचिव संदीप श्रीवास्तव ने बताया, 10 से 12 फीसदी निर्माण लागत कम होने से जनता के साथ बिल्डर्स को भी फायदा मिलेगा। पुराने प्रोजेक्ट्स में रेट बढ़ने से जो नुकसान हो रहा था वो कम हो जाएगा।

कीमतों में 6 से 30 फीसदी तक की कमी

सामग्री नवंबर 21 मार्च 22 अगस्त 22
सरिया 52 रुपए किलो 85 रुपए किलो 65 रुपए किलो
सीमेंट 245 प्रति बोरी 350 प्रति बोरी 290 प्रति बोरी
डीजल 90.86 प्रति ली. 100.31 प्रति लीटर 93.96 प्रति लीटर
टाइल्स 33 रु. वर्ग फीट 42 रु. वर्ग फीट 35 वर्ग फीट
(बिल्डर एसोसिएशन के मुताबिक सैनेटरी, बिजली, कांच, एल्युमिनियम, कॉपर से जुड़े उत्पाद भी 5 से 10 फीसदी तक सस्ते हुए हैं।

बहुचर्चित खबरें