Friday, October 7, 2022
HometrendingRelationship Tips : अपने पार्टनर की ये हरकते देख कर जाने, वो...

Relationship Tips : अपने पार्टनर की ये हरकते देख कर जाने, वो सेल्फिश है या नहीं

Relationship Tips : अपने पार्टनर की ये हरकते देख कर जाने, वो सेल्फिश है या नहीं प्रेम में समर्पण करने के स्थान पर यदि स्वयं की अधिक परवाह करने की भावना जागृत हो तो समझ लें कि यह प्रेम स्वार्थी नहीं है। ऐसे स्वार्थी व्यक्ति से जितनी जल्दी दूरी बना ली जाए उतना ही अच्छा है।

कैसे पता करें कि आपका पार्टनर स्वार्थी है या नहीं : कोई भी रिश्ता कितने समय तक चलेगा यह कई बातों पर निर्भर करता है, सबसे महत्वपूर्ण चीज है विश्वास, जिसके बाद यह माना जाता है कि एक-दूसरे का कितना ख्याल रखा जाता है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि लव रिलेशनशिप में पार्टनर खुद ही निकल आता है और फिर रिश्ते में दरार आने लगती है। हो सकता है कि वह व्यक्ति अपने अर्थ के लिए आपसे जुड़ा हो, क्योंकि देर-सबेर वास्तविक प्रकृति दिखाई देती है। अगर आपका पार्टनर भी ऐसा है तो आपको उनसे तुरंत ब्रेकअप कर लेना चाहिए नहीं तो जिंदगी भर पछताना पड़ेगा। आइए जानते हैं कैसे पहचानें कि आपका पार्टनर स्वार्थी हो गया है।

यह भी पढ़े :  आप का भी पैसा लगा है स्टॉक मार्केट में, इन 5 कारणों से आ रही बड़ी गिरावट जानिए क्या है ये कारण

अपने साथी के स्वार्थ को कैसे पहचानें?

बिलों का भुगतान करने से इनकार
जब आप प्रेम संबंध में होते हैं, तो आप अक्सर बाहर का खाना पसंद करते हैं, आमतौर पर दोनों साथी आपस में बिल बांटते हैं या एक व्यक्ति बिल का भुगतान करता है, लेकिन यदि आप बार-बार बिल का भुगतान कर रहे हैं और दूसरा व्यक्ति भी नहीं करता है जेब में हाथ डाला या पैसे देते वक्त हाथ धोने के लिए भाग गया तो समझ लेना कि वह स्वार्थी हो गया है।

आप वह हैं जो संदेश कॉल शुरू करते हैं
प्यार मोहब्बत में फोन पर लंबी बात करना या लगातार चैट करना आम बात है, लेकिन अगर आप बार-बार कॉल या चैट शुरू करते हैं, या आप प्यार का इजहार करते हैं और दूसरी तरफ से कोई खास प्रतिक्रिया नहीं होती है। इसलिए समझ लें कि आपका पार्टनर रिश्ते की जिम्मेदारी नहीं उठा पा रहा है।

यह भी पढ़े : भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह का हो रहा एक वीडियो वायरल, जानिए अक्षरा सिंह के प्राइवेट विडिओ लीक की पूरी सच्चाई

भावनात्मक सहयोग नहीं मिल पा रहा है
अगर पार्टनर आपके इमोशन को कैजुअली लेता है, या आपकी फीलिंग की कद्र नहीं करता है, तो समझ लें कि उसमें अपने दिल की परवाह करने की भावना की कमी है। प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवन में मानसिक और भावनात्मक समर्थन की अपेक्षा करता है। जीवन में कई बार आपको यह महसूस करना पड़ता है कि कोई उसके साथ है, लेकिन जब आप अकेलापन महसूस करने लगें, तो समझ लें कि अब सेलफिश के साथी की जरूरत नहीं है।

बहुचर्चित खबरें