Friday, October 7, 2022
HomebusinessSariya Cement Update: जानिए नयी अपडेट सरिया और सीमेंट के दामों में आई...

Sariya Cement Update: जानिए नयी अपडेट सरिया और सीमेंट के दामों में आई गिरावट अब घर बनाने वालो को मिलेगी राहत, देखे नये दाम कितने मिलेगा

Sariya Cement Update: जानिए नयी अपडेट सरिया और सीमेंट के दामों में आई गिरावट अब घर बनाने वालो को मिलेगी राहत, देखे नये दाम कितने मिलेगा घर बनाने वालो की बल्ले बल्ले, सरिया सीमेंट के दामों में आयी भारी गिरावट,नमस्कार दोस्तों, हमारे इस लेख में आप सभी का स्वागत है, आज के इस लेख में हम आप सभी पाठकों का तहे दिल से स्वागत करते हैं, हम आशा करते हैं कि आप, आपका परिवार, आपके रिश्तेदार और सभी दोस्त सुरक्षित हैं। स्वास्थ्य और खुशी। हर व्यक्ति की चाहत होती है कि वह अपना खुद का घर बनाए, जहां सब कुछ उसके अनुसार हो, उसी के अनुसार घर की दीवारों पर रंग, दरवाजे और खिड़कियां हों और सब कुछ उसी के अनुसार व्यवस्थित हो।

लेकिन अपना घर बनाना कोई छोटी बात नहीं है। व्यक्तियों की पूरी जीवन पूंजी घर बनाने में खर्च हो जाती है। लेकिन उसके बाद भी कोई न कोई कमी जरूर रह जाती है जो उन्हें बार-बार याद आती रहती है। यदि आप में से कोई भी पाठक इन लोगों में से एक है, तो यह लेख केवल और केवल आपके लिए लिखा गया है। हम गारंटी देते हैं कि इस लेख को पढ़ने के बाद आप निश्चित रूप से खुश महसूस करेंगे।

जब घर बनाने की बात आती है, तो सबसे पहली बात जो दिमाग में आती है वह है बहुत सारा पैसा। क्योंकि घर बनाने के लिए काफी पैसे की जरूरत होती है। घर बनाने के लिए सबसे पहले जमीन की जरूरत होती है। लेकिन अगर जमीन पहले से है तो उसमें निर्माण कार्य की लागत पर भी विचार करना होगा।

फिर भी यदि किसी प्रकार से निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया जाता है तो उसके बाद घर के अन्य छोटे-बड़े विवरण, जो भी लाख रुपये खर्च हो, पर कार्य करना होता है। इन सब कारणों से हर व्यक्ति का अपना घर बनाने का सपना अक्सर अधूरा रह जाता है। क्योंकि घर बनाने में इस्तेमाल होने वाली सभी सामग्रियां एक तरफ महंगी होती हैं और दूसरी तरफ इनका इस्तेमाल बहुत ज्यादा मात्रा में किया जाता है। लेकिन अब आपको निराश होने की जरूरत नहीं है।

खुद का घर और भी किफायती यदि आप में से अधिकांश पाठक अपना घर बनाने की सोच रहे हैं तो यह बात मन में जरूर आई होगी कि किसी समय घर बनाने में प्रयुक्त सामग्री के दाम कम कर दिए जाते तो अच्छा होता। तो आपको बता दें कि सरकार ने आपकी बात सुनी है। मकान निर्माण में इस्तेमाल होने वाली सभी सामग्रियों की लागत अब कम कर दी गई है। ताकि आप अपना घर बनाने का सपना आसानी से पूरा कर सकें। इस लेख के अंत में हम आपको बताएंगे कि कितना पैसा कम किया गया है, इसलिए आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़े :  RBI ने लगाया लाखो का जुर्माना इन 5 बैंको पे कार्यवाही, देखिये आप भी तो खता नहीं है इनमे

घर निर्माण सामग्री की कीमतें क्यों गिर रही हैं?जाहिर है आपके मन में भी यह बात जरूर आ रही होगी कि मकान निर्माण सामग्री के दामों में अचानक इतनी गिरावट क्यों आई है तो हम आपको बता दें कि कुछ खास वजहों से इन सभी चीजों की कीमतों में कमी आई है। . इन चीजों में मुख्य रूप से बार, सीमेंट और ईंटें शामिल हैं। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि अभी बारिश का मौसम चल रहा है। जिससे निर्माण कार्य पूरी तरह से प्रभावित हो गया है। ऐसे में उन लोगों को इससे काफी लाभ मिलेगा, जो अपना घर बनाने का सपना देख रहे हैं।

अगर हम सामग्री की कीमतों में गिरावट के कारणों की बात करें तो इसके लिए कम मांग, सुस्त रियल एस्टेट सेक्टर और सरकारी हस्तक्षेप जिम्मेदार हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पिछले कुछ दिनों में निर्माण सामग्री की कीमतों में बहुत तेजी से कमी आई है. बाहर के दाम जो कुछ महीने पहले से आसमान को छू रहे थे वो अचानक जमीन पर गिर गए हैं.

सरकार ने लिया ये फैसला कुछ महीने पहले जो बार आसमान में उड़ते थे, आज वो सारे दाम जमीन पर गिर गए हैं। इन चीजों के साथ ही सीमेंट और ईंट जैसी निर्माण सामग्री की कीमतों में भी गिरावट आई है।

इन्हीं सब कारणों से लोगों का अपना घर बनाने का सपना पूरा होता दिख रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सरकार ने हाल ही में स्टील पर एक्सपोर्ट ड्यूटी बढ़ा दी है.नतीजतन, घरेलू बाजार में स्टील की कीमतों में भारी गिरावट आई है।

यह भी पढ़े :  ‘मिर्जापुर’ के कालीन भैया की ऑन स्क्रीन वाइफ बीना त्रिपाठी ने इस अंदाज में किया कालीन भैया को बर्थडे विश, ऐसे किया कमेंट

बार की कीमतों में गिरावट का यह भी मुख्य कारण माना जा सकता है। इसके अलावा हमारे देश के कई इलाकों में बारिश के कारण निर्माण गतिविधियों में उल्लेखनीय कमी आई है। इसके चलते मांग भी पूरी तरह से प्रभावित हुई है।
कितने दाम गिरे बार की कीमत मार्च और अप्रैल के महीनों में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई थी। लेकिन पिछले कुछ दिनों में इसमें एक बार फिर तेजी देखने को मिली है।

लेकिन यह मार्च-अप्रैल के मुकाबले काफी किफायती हो गया है। इस्पात मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल की शुरुआत में टीएमटी बार की खुदरा कीमत लगभग ₹75,000 प्रति टन थी। जो 15 जून को गिरकर करीब ₹65000 प्रति टन पर आ गया था। खुदरा बाजार के मुताबिक अप्रैल में एक बार भाव 82000 फीसदी तक पहुंच गया था। लेकिन अब यह लगभग ₹50000 से ₹55000 प्रति टन पर आ गया है।

बहुचर्चित खबरें